Chachi Ki Chut Chudai Kahani

chachi ki choot story

सगी चाची के साथ पहली चुदाई

हेलो, दोस्तो मैं पवन आज अपनी कहानी आप को बताने जा रा हूँ. ये कहानी मेरी जिंदगी से जुड़ी हुई है और ये कहानी थोड़ी पुरानी है पर मजेदार है मुझे उमीद है आप को मेरी ये इंडियन आंटी सेक्स स्टोरीस कहानी पसंद आएगी.

तो चलिए मैं अपनी कहानी शुरू करता हूँ.दोस्तो, ये बात तब की है जब मैं 12थ क्लास मे था और मेरी उमर 18 साल की थी मुझे 11 साल की उमर मे ही सेक्स की सारी नॉलेडेज हो गयी. मेरे अंदर बचपन से ही सेक्स की इछा बहोत थी इस लिए मेरा लंड का साइज़ भी काफ़ी बड़ा और मोटा हो गया था. मेरी पैंट मे से मेरा लंड सॉफ चमकता था.

हम शुरू से ही सारी फॅमिली एक साथ रहती थी मेरी फॅमिली मे मेरी सग़ी तीन चाची है पर उन सब मे से मुझे अपनी छ्होटी चाची मधु बहोत ही पसंद थी. मैं उन्हे बचपन से ही बहोत पसंद करता था और जब से मुझे मूठ का पता चला तो मैं उनको सोच कर मूठ मरता था. उनके मोटे मोटे बूब्स और चुत्तर मुझे बहोत अछे लगते थे.Antarvasna Sister And Mom

कुछ टाइम बाद हुमारी एक साथ रहने वाली फॅमिली अलग हो गई और अब ये हाल था की हम डेली कभी कोई किसी के घर जा रा है तो कभी कोई मेरे घर के साथ ही मेरी मधु चाची का घर और मैं अपने घर से ज़्यादा उनके घर रहना पसंद करता था. मेरे चाचा एक बड़ी कंपनी मे काम करते थे इस लिए उनका घर आने का कुछ नही पता आते है तो वो आधे दिन मे आ जाते है और अगर नही आते तो 10 दिन तक घर नही आते.chachi ki choot story

चाची के दो बच्चे भी है एक लड़का और एक लड़की दोनो के दोनो मुझसे उमर मे छ्होटे है और चाची ने उन दोनो को एक ही बोर्डिंग स्कूल मे डाला हुआ है क्योकि वाहा का माहॉल थोड़ा ऐसा ही है और वो नही चाहते की उनके बच्चे इस मोहल मे बिघड़ जाए.

चाची मुझसे इस लिए ही बहोत प्यार करती थी और इस लिए मैं बिना किसी टेन्षन के उनके घर जब मर्ज़ी आता जाता रहेता था. जब मैं 10थ क्लास मे हुआ तो मेरे अंदर सेक्स की भावना और भी ज़्यादा हो गयी. अब मैं चाची को और भी ज़्यादा गौर से देखने लग गया. मुझे अब उनके जिस्म को देखने मे और भी ज़्यादा मज़ा आने लग गया. मुझे अब उन्हे चोदने का दिल करता था और मेरा लंड उनके लिए मरा जा रा था.chachi ki chut ki kahani

जब मेरे चाचा कंपनी से नही आते थे तो चाची अपने घर मे सोने के लिए किसी ना किसी को बुला लेती और उन सब मे सबसे पहले मैं ही आता था. एक रात चाचा जी घर नही आए तो चाची ने मुझे सोने के लिए अपने घर बुला लिया और रात चाची नीचे ज़मीन पर लेट गयी और मैं और उसका लड़को जो की आज तक घर आया हुआ था मैं उसके साथ उपर बेड पर लेट गया.

कुछ ही देर मे सब सो गये पर मेरी आँखो मे दूर दूर तक नींद नही थी मेरी आँखो मे तो चाची के मोटे मोटे बूब्स और चुत्तर घूम रहे थे. मैं लगातार चाची को देख रा था मुझे वो बहोत ही मस्त लग रही थी. मुझसे और नहि रहा गया और मैं बेड से उठा और नीचे चाची के पास जा कर लेट गया क्या कमाल की खुशबू आ रही थी चाची की जिस्म से. मैने अपना लंड बाहर निकाल लिया और अपने एक हाथ से उसे उपर नीचे करने लग गया.chachi ki choot story

चाची ने अचानक करवट ली और मैं डर गया अब चाची का मूह मेरे सामने था पर वो गहरी नींद मे सो रही थी मैने जल्दी से उनके गुलाबी होंठो को देख कर मूठ मारी और अपने लंड का सारा पानी उनके नाइट सूट पर निकाल दिया और फिर चाची के पास ही सो गया.अगले दिन जब मैं उठा तो चाची ने मुझे टी दी और मेरी तरफ मुस्कुराते हुए देख कर चली गयी. मैं कुछ समझ नही पाया फिर मैं टी का कप ले कर बाहर आया तो उनका लड़का मुझे दिख नही रा था शायद वो अपने स्कूल वापिस चला गया इसका मतलब था की अब मैं चाची घर मे बिल्कुल अकले थे. मैं चाची को ढुनडने लग गया वो मुझे कही पर भी नही मिल रही थी.chachi ki chut ki kahani

फिर मुझे बाथरूम से पानी की आवाज़ आने लगी मैं जल्दी से बाथरूम की और गया और चुपके से बाथरूम मे से देखा तो चाची पूरी नंगी हो कर शोवेर के नीचे खड़ी नहा रही थी. ये सब देख कर मेरा लंड एक दम से खड़ा हो गया और मैं पागल सा होने लग गया मेरा दिल कर रहा था की अभी अंदर जाउ और चाची को चोद डालूं.

फिर मैने एक प्लान बनाया मैं चुप चाप सोफे पर आ कर बैठ गया जब चाची नहा कर अपने कमरे मे आई और कपड़े डालने लगी तब मैं जान कर उनके कमरे के सामने गया और जब उन्होने मुझे देखा तो मैं उनकी आँखो मे एक बार देख कर वापिस आ कर बैठ गया. मुझे नही पता था की अब मेरा क्या होगा मैं चाची के आने का इंतज़ार करने लग गया. जब चाची मेरे पास आई तो उन्होने मेरी तरफ देखा और मुस्कुरा कर किचन मे चली गयी मैं समझ गया की बात बन गयी.

मैं उनके पीछे पीछे चला गया और फिर चाची बोली – तुम कपड़े चेंज करते हुए देख रहे थे या मुझे ऐसे ही कोई ग़लती हुई है. मैं अपना सिर झुका कर धीरे से बोला – हान चाची.चाची फिर एक दम गुस्से मे मुझे देखने लग गयी और मैं डर गया और फिर अचानक से वो ज़ोर ज़ोर से हसने लग गयी. मेरी तो साली ने एक बार गॅंड ही फाड़ दी थी पर अब मेरे पास मौका था इस लिए मैं बोला – चाची मुझे आप को एक बार ब्रा और पैंटी मे देखना है मुझे नही पता मैने देखना है तो देखना है.chachi ki chut kahani

पहले तो चाची मानी नही पर मेरी ज़िद के आगे उन्हे मानना पड़ा फिर वो मुझे अपने साथ बेडरूम मे ले कर चली गयी और सामने एक एक करके अपने सारे कपड़े उतार दिए. मैं उन्हे करीब 5 फीट की दूरी पर खड़ा था उनको इस रूप मे देख कर मेरा लंड पैजामे को फाड़ने वाला हो गया. मैं थोडासा आगे हुआ तो चाची तभी बोली – देखने की बात हुई थी वही रुक जाओ.

मैं आगे आते हुए बोला – चाची प्लीज़ एक बार आप के बूब्स को दबा लून बस. इससे पहले चाची कुछ बोलती मेरे दोनो हाथो मे उनके दोनो बूब्स थे मैने उन्हे ज़ोर ज़ोर से मसलने लग गया. मुझे ये सब बहोत अछा लग रहा था कुछ ही देर मे चाची के मूह से आह्ह आह्ह की मस्ती वाली आवाज़ें आनी शुरू हो गयी. मैं मोका देखते हुए अपने होंठ उनके होंठो पर लगा दिए और उनके होंठो को चूसना शुरू कर दिया.nangi chut story

चाची मुझे पीछे की तरफ धक्का दे रही थी पर अब कुछ नही हो सकता था मैने उन्हे कस्स कर पकड़ा हुआ था और फिर मैने उन्हे धक्का दे कर बेड पर गिरा दिया और उनके उपर आ कर उनकी ब्रा फाड़ दी और उनके बूब्स चूसने लग गया. अब चाची कुछ नई बोल रही थी चुप चाप लेटी मज़े ले रही थी.

मुझे अपना फीडबॅक देने के लिए कृपया कहानी को ‘लाइक’ ज़रूर करे, ताकि कहानियों का ये दौर देसीकाहानी पर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.फिर मैने अपना पैजाम नीचे किया और अपना लंड बाहर निकाल लिया और उसके बाद मैने उनकी पैंटी भी फाड़ दी और देखते ही देखते मैने अपना लंड उनकी चूत की गहराइयों मे डाल दिया और चाची आह्ह अह्ह्ह आ करती जा रही थी और मैं नीचे से ज़ोर ज़ोर से उनकी चूत मार रहा था. फिर मैने अपने लंड का सारा पानी उनकी चूत मे ही निकाल दिया और उनके उपर ही सो गया.

nangi chut kahani,chachi ki chut chudai story,chachi ki chut story,chachi ki chut chudai kahani,chachi ki chut chudai ki kahani,

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post