Hindi Chut Ki Chudai Ki Kahani

hindi chut chudai kahani

hindi chut ki kahani,hindi chut chudai kahani,hindi chut chudai story,hindi chut kahani,



बेटियों के साथ हसबैंड स्वैपिंग

जी हां हमारी बेटियां हमारे साथ ख़ुशी ख़ुशी करतीं हैं शौहर की अदला बदली। उनके

दोनों शौहर नंगे नंगे हमारे बिस्तर पर लेटतें हैं और मेरा शौहर नंगा नंगा उसके बिस्तर पर लेटता है। मैं उनके शौहर 

hindi choot kahani

के आगे नंगी रहती हूँ वह मेरे शौहर के आगे नंगी रहती है। वो मेरे शौहर के लण्ड पे बैठती है मैं उनके शौहर के 

लण्ड पे बैठती हूँ।वो मेरे शौहर का लण्ड पीती है मैं उनके शौहर के लण्ड पीती हूँ। क्या मस्ती से दिन गुज़र रहें हैं ?

मेरी दो बेटियां हैं। दोनों बेटियां भी अपने अपने शौहर बदल लेतीं हैं। बड़ी वाली बेटी छोटी वाली के शौहर से 

चुदवाती है, छोटी वाली बेटी बड़ी वाली के शौहर से चुदवाती है। बड़ा आनंद का माहौल रहता है। मेरा नाम सनाया 

बेगम है। मैं एक मद मस्त खूबसूरत और हॉट बीवी हूँ। मेरा शौहर सलमान हैं। वह भी बहुत हट्टा-कट्टा हैंडसम 

आदमी है। मुझे बहुत पसंद है वह भी और उसका लण्ड भी। मेरी दो बेटियां हैं तमन्ना और तनाया। दोनों का निकाह 

hindi chut khaniya

अभी हाल ही में हुआ है। तमन्ना का हसबैंड हैं मुनीर और तनाया का इरफ़ान। मैं जितना अपनी बेटियों को प्यार 

करती हूँ उतना ही उनके शौहरों से भी प्यार करती हूँ। मुझे दोनों ही खूब पसंद हैं। मुनीर भी बड़ा हैंडसम लड़का है 

और इरफ़ान भी। इनका निकाह अभी 3 महीने हुए हैं लेकिन मैं इनके निकाह के पहले ही इनके लण्ड पकड़ कर 

देखना चाहती थी। पर किसी कारण बस देख नहीं सकी. मेरी दोनों बेटियां तो शादी के पहले ही चुदी हुईं थीं। मेरी 

ख्वाहिस थी की मेरी बेटियों की शादी किन्हीं मोटे तगड़े लण्ड वालों लड़कों से हो। ताकि मेरी बेटियों को जवानी का 

पूरा मज़ा मिल सके।इनके लण्ड तो नहीं देखे मैंने लेकिन मेरी नन्द ने बताया थी की भाभी जान चिंता न करो दोनों 

के लण्ड मेरे देखे हुए हैं। लण्ड बहुत ही मोटे भी हैं और लम्बे भी। मेरे भोसड़ा को पानी पिला देते है इन दोनों के 

लण्ड। तब मैंने निकाह के लिए हां कर दी थी। मुझे यकीं था की किसी न किसी दिन मैं खुद अपनी बेटियों के मियों 

के लण्ड पकड़ कर देखूंगी। दरअसल मेरी दोनों बेटियों की शादी मेरे दो सगे देवरों से हो गयी। मेरे दोनों देवर दुबई 

में रहतें हैं इसलिए मैं कभी उनके लण्ड न देख पायी और न पकड़ पाई। मेरी नंनद दुबई गयी थी तो इन दोनों से 

खूब मजे से चुदवाकर आयी है वही इनके लण्ड के बारे में बता रही थी।अब तो मेरी बेटियां बन गयी मेरी देवरानियां 

मैं हो गयी उनकी जेठानी। अब तो और आएगा मज़ा।तमन्ना और तनाया जब 19 साल की हो गयीं थी तो एक दिन 

मैंने कहा - अरे बुर चोदी तमन्ना अब तू एडल्ट हो गयी है जवान हो गयी है। तूने अभी तक अपनी माँ नहीं चुदवाई। 

तेरे साथ की लड़कियां सब अपनी अपनी माँ चुदवा रहीं हैं। तू पहले ये बता भोसड़ी वाली की तूने लण्ड पकड़ना 

शुरू किया की नहीं ? वह बोली हां अम्मी जान शुरू कर दिया है।मैंने कहा तो फिर कहाँ कहाँ लिया लण्ड ? वह 

बोली खाला के घर के लिए एक-दो बार फूफी के घर में और दो बार अपनी सहेली के घर में ?मैं बोली अरी मैं यह 

नहीं पूंछ रही हूँ। मैं पूंछ रही हूँ की मुंह में लिया लण्ड की बुर में ?वह बोली अभी तो मुंह में ही लिया है लण्ड अम्मी 

जान।मैंने तनाया से भी पूंछा तो उसने बताया की मैंने भी दो लण्ड अपनी सहेली घर में पकड़ा है।मैंने कहा अपनी 

माँ चुदाओ तब तो लण्ड पकड़ने का मज़ा है ? बिना माँ चुदाये तू जवानी का मज़ा नहीं ले सकती ? समझ में आया 

तेरी माँ का भोसड़ा तनाया।तेरी बहन की बुर ? सब कुछ सीख ले नहीं तो तू किसी की एक झांट भी नहीं उखाड़ 

पायेगी ?बस उसी रात को मैंने एक लण्ड तमन्ना के हाथ में रख दिया और एक लण्ड तनाया के हाथ में। वो दोनों 

लोग मेरी दोस्तों के हसबैंड्स थे आसिफ और आशिक। दोनों लगभग 50 साल के थे। मैं चाहती थी की मेरी बेटियां 

एकदम मस्त होकर बड़ी बेशरमी से जवानी का मज़ा लूटें। खूब प्यारी प्यारी गालियां दें और खूब मजे से चुदवायें।

तमन्ना तो लण्ड पकड़ कर मस्त हो गयी और तनाया तो इतनी खुश हो गयी की वह बोली अब आएगा मज़ा माँ के 

भोसड़ा में लण्ड पेलने का ?मैंने कहा अरे भोसड़ी वाली तनाया तू पहले अपनी चूत में पेल ले लण्ड फिर मेरी चूत में 

पेलना। वह बोली नहीं यार मेरी बुर चोदी सनाया लण्ड अपने हाथ से अपनी चूत में पेलने में मज़ा नहीं आता। मज़ा 

तो तब आता है जब कोई और अपने हाथ से लण्ड पेले मेरी चूतमें ? मैंने मन में कहा अरे वाह ये तो मुझसे भी आगे 

निकली जा रही है माँ की लौड़ी ?तमन्ना आसिफ का लौड़ा चूसने लगी और तनाया आशिक का लौड़ा। मैं दोनों के 

पेल्हड़ सहला सहला कर मज़ा लेने लगी। नंगी मैं भी थी और नंगी मेरी बेटियां भी.उस दिन हम तीनो बहुत बहुत 

खुश थीं। तनाया बोली - हाय तमन्ना बड़ा मजे दार लौड़ा है आशिक अंकल का ? बड़े बड़े लोगों के बड़े बड़े लण्ड 

होते हैं। मुझे तो बड़ा प्यारा लग रहा है अंकल का लण्ड। तमन्ना बोली - हां यार लौड़ा तो आसिफ का भी बड़ा मस्त 

है देखो न कैसे टन्ना रहा है भोसड़ी का ? आसमान ताक रहा है। ये तेरी माँ भोसड़ा चोदेगा, तनाया। वह बोली मैं तेरी 

माँ का भोसड़ा चोदूँगी तमन्ना ?फिर न तमन्ना मानी और न तनाया। दोनों ने अपने हाथ से लण्ड मेरे भोसड़ा में पेला 

और अपनी माँ बड़ी मस्ती से चोदा। मैंने भी दोनों लण्ड एक एक करके दोनों बेटियों की बुर में घुसेड़ा और खूब 

तबियत से चोदा दोनों की बुर। तबसे हमारे रिश्ते और पक्के हो गए। अब जब इनकी शादी हो गयीं हैं और मैं दोनों 

की जेठानी हो गयी हूँ ये दोनों मेरी देवरानी हो गयीं है तो हमारे चुदाई के रिश्ते और मजबूत हो गए। शाम को मेरी 

बहन की बेटी मुस्कान अपने शौहर आदिल के साथ आ गई।मैंने आदिल को देखा तो मज़ा आ गया। दोनों बेटियां भी 

hindi choot stories

बहुत खुश हुई।कुछ देर बाद जब मुनीर और इरफ़ान दोनों आये और इन सब से मिले तो मज़ा ही मज़ा आया।उधर 

मेरा शौहर सलमान भी आ गया। अब घर में चार कपल हो गए। मैं और मेरा मियां सलमान, तमन्ना और उसका 

मियां मुनीर, तनाया और उसका मियां इरफ़ान, मुस्कान और उसका मियां आदिल। तमन्ना बोली - हाय मुस्कान 

आज तो मैं तुमसे अपना हसबैंड बदल लूंगी। वह बोली - हां हां बिलकुल बदल लो। चाहो तो कुछ दिन के लिए ले 

जाओ मेरा हसबैंड। तमन्ना बोली - हां यार यह भी ठीक है की हम लोग हसबैंड अदल बदल कर कुछ दिन के लिए 

अपने अपने घर ले जाएँ। उनके लण्ड चोद चाद के फिर वापस कर दें।तनाया बोली - हां यार आईडिया बहुत अच्छा 

है। मैं समझती हूँ ये मरद भी भोसड़ी वाले बीवियां अदल बदल कर अपने अपने घर में दूसरों की बीवियां रखेंगें और 

उन्हें दिन रात चोद चोद कर वापस करेंगें। सबकी चूत का भोसड़ा बनाकर ही वापस करेंगें। इतना चोदेगें की चूत 

बन जाये भोसड़ा ?सब लोग इस बात पर हंसने लगे। बोले ऐसा हो तो बहुत अच्छा है। मैंने तमन्ना के मियां मुनीर के 

पजामा में हाथ घुसेड़ दिया। मुझे बहुत जल्दी थी उसका लण्ड पकड़ने की। तब तमन्ना ने भी मेरे मियां यानी अपने 

अब्बू की लुंगी में हाथ डाल दिया।इधर मैंने उसके मियां का लण्ड बाहर निकाला तो उधर उसने मेरे मियां का लण्ड 

बाहर निकाला। दोनों लण्ड आमने सामने हो गए। इतने में तनाया ने मुस्कान के मियां का लण्ड निकाल कर उसे 

नंगा कर दिया और मुस्कान ने तनाया के मियां का लण्ड खींच कर निकाला और उसे पूरा नंगा कर दिया। मैंने 

तनाया के मियां का लण्ड देखा तो मुझे फक्र होने लगा। लौड़ा बड़ा गज़ब का था। मेरे दोनों जमाई मेरे देवर ही हैं न 

? मुझे तो इनके लण्ड पीने का हक़ है। तमन्ना बोली ये भोसड़ी का लण्ड है तो मेरे अब्बू जान का पर अब ये मेरी 

जेठानी के मियां का लण्ड है। मुझे भी इस लण्ड पर सवारी करने का हक़ है।मैं अपनी बेटी तमन्ना के मियां का लण्ड 

hindi chut land story

चूसने लगी तो बेटी मेरे मियां का लण्ड चूसने लगी। उधर मेरी छोटी बेटी तनाया मुस्कान के मियां का लण्ड चूसने 

लगी तो मुस्कान तनाया के मियां का लण्ड।इसी को कहतें हैं हसबैंड की अदला बदली। जब से बेटियां बुर चोदी 

बीवियां हो गईं हैं तब से वो किसी के भी साथ हसबैंड अदल बदल कर ग़ैर मर्दों से चुदवा सकतीं हैं। मज़ा ले सकती 

हैं। बेटियां शादी के बाद अम्मियों के बराबर हो जातीं है और ऐसे में उनके भोसड़ा में लण्ड पेलने में उन्हें कोई शर्म 

नहीं आती है। अम्मियाँ भी बड़ी हरामजादी हो जातीं हैं। वो भी अपनी बेटियों की बुर चोदने में चुदाने में कोई कसर 

बाकी नहीं रखतीं। फिर क्या बेटी के मियां ने लौड़ा गप्प से घुसा दिया मेरी चूत में और मेरे मियां ने पेल दिया लण्ड 

मेरी बेटी की चूत में। उधर मुस्कान का मियां तनाया की बुर चोदने लगा और तनाया का मियां मुस्कान की बुर चोदने 

hindi chut ki kahani

लगा। *है |तो यह हसबैंड की अदला बदली पर देखा जाए तो यह बीवियों की अदला बदली भी है। दूसरे की बीवी 

चोदना हर मर्द को अच्छा लगता है और दूसरे मरद से चुदवाना हर बीवी को अच्छा लगता है। मुस्कान बोली अरे 

सलमान खालू जान ( वह मेरी बहन की बेटी है तो मेरे शौहर को खालू कहती है ) तुम तो अपनी बेटी चोद रहे हो 

तुम्हे शर्म नहीं आती ? वह बोला इसमें शर्म की क्या जरुरत है ? कौन कहता है की मैं अपनी बेटी चोद रहा हूँ। मैं तो 

मुनीर की बीवी चोद रहा हूँ क्योंकि मुनीर मेरी बीवी चोद रहा है। जो मेरी बीवी चोदेगा मैं उसकी बीवी चोदूंगा। वह 

कोई भी हो, चाहे वह मेरी बेटी ही क्यों हो, मैं तो चोदूंगा। इसके अलावा तमन्ना मेरी भाई जान की बीवी है। इस तरह 

वह मेरी छोटी भाभी जान हैं। अब भाभी जान की बुर चोदना तो हमारा हक़ है यार ?फिर क्या चुदाई में चार चाँद लग 

hindi chut chudai kahani

गए। चारों बीवियों की बुर झमाझम चुदने लगी।चुदाई की स्पीड भी बढ़ने लगी और सिसकारियों की आवाज़ भी 

बढ़ने लगी। जब चुदाई में मज़ा आता तो फिर तरह की आवाज़ें निकलतीं ही हैं। आखिर में मैंने अपनी बेटी के मियां 

का झड़ता हुआ लण्ड चाटा और उसने मेरे मियां का झड़ता हुआ लण्ड ? दूसरी पारी में पार्टनर बदल गए। मेरी 

नज़र पहले से ही अपनी छोटी बेटी तनाया के हसबैंड के लण्ड पर थी और तनाया भी बड़ी देर से मेरे मियां का लण्ड 

hindi choot stories

देख रही थी।मैंने उसके मियां का लौड़ा हाथ में लिया तो उसने मेरे मियां का लौड़ा हाथ में लिया । हम दोनों एक 

दूसरे के मियां के लण्ड चाटने लगीं। इसी तरह तमन्ना और मुस्कान भी एक दूसरे के मियां का लण्ड मस्ती से चाटने 

लगीं। फिर मुस्कान का मियां तमन्ना की बुर चोदने लगा और तमन्ना का मियां मुस्कान की बुर।दोनों बुर चोदी बेटियां 

भकाभक एक दूसरे के मियां से चुदवाने लगी। मेरा मियां बोला-यार आदिल मुझे तेरी बीवी चोदने में ज्यादा मज़ा आ 

रहा है। ऐसी बीवी चोदने को मिले तो फिर कहना ही क्या है। मन करता है की मैं इसे चोदता ही रहूं ? मेरा मियां 

अपनी ही बेटी चोद चोद कर कह रहा था। उसका कहना था की मैं अपने छोटी भाई जान की बीवी चोद रहा हूँ और

 hindi me chut ki kahani

मुझे परायी बीवी चोदने का शौक है। मैं इसे नहीं चोदूंगा तो कोई और इसे चोदेगा ? जब कोई और इसे चोदेगा तो 

फिर मैं ही क्यों न चोदूँ ? इधर मुझे अपनी छोटी बेटी के मियां से चुदवाने में ज़न्नत का मज़ा आ रहा था।कुछ देर बाद

 hindi chut chudai stories

चुदाई एक एक और दौर चला जिसमे मैंने मुस्कान के मियां आदिल से चुदवाया और मुस्कान ने मेरे में सलमान से 

चुदवाया। मेरी बड़ी बेटी तमन्ना ने मेरी छोटी बेटी तनाया के हसबैंड इरफ़ान से चुदवाया और तनाया ने बड़ी बेटी 

तमन्ना के मियां मुनीर से चुदवाया। इन दोनों बेटियों ने हसबैंड अदल बदल कर चुदवाया।उस दिन मुझे मालूम हुआ 

की कितना मज़ा आता है एक दूसरे के मियां से एक दूसरे के सामने चुदवाने में। फिर मैं यह खेल अपनी बहनो के 

साथ, अपनी बेटियों के साथ, अपनी नंदों के साथ, अपनी पड़ोसियों के साथ, और अपनी दोस्तों के साथ खेलने लगी 

और हर रोज़ किसी न किसी के हसबैंड से चुदवाने लगी। मेरी बेटियां भी बुर चोदी हर दिन पराये हसबैंड से चुदवाने 

hindi chut ki chudai kahani

लगीं।एक दिन मेरी पड़ोसन अपनी बेटी के साथ आ गयी और बोली सनाया मुझे मालूम हुआ की तुम अपनी बेटियों 

के साथ मियों की अदला बदली करती हो ? अपनी बेटी के मियां से चुदवाती हो ? मैंने कहा हां करती तो हूँ। अपनी 

बेटियों के मियों से चुदवाती भी हूँ. वह बोली तो फिर मेरे साथ भी करो और मेरी बेटी के साथ भी करो न प्लीज।एक 

बार तुम्हारे साथ करूंगी तो सीख जाउंगी फिर मैं भी कई लोगों के साथ करती रहूंगी। मेरा बड़ा मन है दूसरों के 

शौहरों से चुदवाने का ? मैंने कहा पहले तुम अपनी बेटी से खुली हुई हो की नहीं। वह बोली अरे यार मेरी बेटी बुर 

चोदी लण्ड पेलती हैं मेरी बुर में ? तब तक उसकी बेटी बोली हां और ये भोसड़ी वाली मेरी अम्मी जान जब लण्ड 

मेरी बुर में पेलेगी तो फिर मैं इसकी बुर में पेलूँगी लण्ड ? मैंने कहा फिर क्या हो गया तेरा काम ? कल मैं तेरे घर 

अपने मियां के साथ आ रही हूँ। मैं गयी और उसकी बेटी के मियां का लण्ड उसकी बुर में पेल दिया और उसके 

हसबैंड का लण्ड उसकी बेटी की बुर में घुसा दिया। बेटी अपने अब्बू से धकाधक चुदवाने लगी और बेटी का मियां 

अपनी सास का भोसड़ा झमाझम चोदने लगा।कुछ देर में मैं भी अपने मियां के साथ उस चुदाई में शामिल गई और 

उनके हसबैंड से बिंदास चुदवाया। उधर मेरे मियां को बेटियां चोदने का चस्का लग गया।एक दिन जब मैं बाहर से 

आयी तो देखा की मेरी बेटी तमन्ना अपने खालू के लण्ड पर बैठी है और उसका मियां उसकी खाला की बुर चोद रहा

 hindi chut ki story

है। उसी के बगल में मेरी छोटी बेटी तनाया अपने फूफा के लण्ड पर बैठी थी और उसका मियां इरफ़ान उसकी 

फूफी का भोसड़ा चोद रहा था। एक दिन मुझे मेरी दोस्त फरीदा ने बताया की यार मैं भी अपनी बेटियों के साथ 

हसबैंड अदल बदल कर चुदवाती हूँ। बड़ा मज़ा आता है। बड़े मजे से चोदते हैं मुझे मेरी बेटियों के हसबैंड। मेरी 

बेटियां भी भोसड़ी वाली बड़ी मस्ती से चुदवातीं हैं अपने अब्बू जान से। बहुत बड़ी मादर चोद हैं मेरी बेटियां।


Post a Comment (0)
Previous Post Next Post